शर्मनाक: नेत्रहीन महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म, हत्या कर शव को कुएं में फेंका

लोहरदगा. झारखंड से मानवता को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है. यहां नेत्रहीन महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म करने के बाद मनचलों ने उसकी हत्या कर दी और शव को कुएं में फेंक दिया. रेप के बाद हत्या की ये घटना लोहरदगा जिले की है. जिले के कैरो थाना क्षेत्र के बाघी गांव में महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म कर हत्या करने और शव को कुएं में फेंकने की घटना से हड़कंप मच गया.

मामला प्रकाश में आने के बाद लोग भी सकते में हैं. घटना एक जनवरी की बताई जा रही है. जानकारी के अनुसार कैरो थाना क्षेत्र के बाघी गांव में नए साल का जश्न मानकर गांव के ही कुछ लोगों ने नशे में धुत्त होकर इस घटना को अंजाम दिया और गांव की ही जन्मजात 55 वर्षीय नेत्रहीन महिला के साथ गांव के खलिहान में सामूहिक दुष्कर्म की. गैंगेरेप के बाद महिला की हत्या कर दी गई और शव को गांव के कुएं में फेंक दिया गया.

कुआं में शव मिलते ही पुलिस गांव पहुंची और शव को बरामद कर पूरे मामले को लेकर जांच में जुट गई है. प्रारंभिक जांच में पुलिस को यह जानकारी मिली है कि महिला के साथ एक जनवरी को गांव के ही तीन चार युवकों ने दुष्कर्म करने के बाद उसकी हत्या कर शव को कुएं में फेंका है. हालांकि दुष्कर्म करने वाले युवक की संख्या बढ़ भी सकती है. पुलिस पूरे मामले पर जांच कर रही है. घटना के बाद कैरो थाना पुलिस ने दुष्कर्म कर हत्या का मामला दर्ज करते हुए तीन अभियुक्तों को बाघी गांव से गिरफ्तार कर लिया है और उनसे पूछताछ कर रही है.

ये भी पढ़े-  कंझावला हादसा : मेरी फ्रेंड घिसटती रही लेकिन कारवालों ने स्पीड कम नहीं की, सहेली ने बताया उस दिन क्या-क्या हुआ था

महिला की शव मिलने के बाद पुलिस कैरो थाना में आईपीसी धारा 302, 367डी, 201, 34 दुष्कर्म और हत्या का मामला दर्ज कर लिया है. गिरफ्तार अभियुक्तों की पहचान कैरो थाना क्षेत्र के बाघी गांव निवासी बालकेश्वर उरांव, सूरज मिंज और रोबिन उरांव के रूप में हुई है. पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कर परिजनों को सौंप दिया है और आगे की कार्रवाई में जुटी है. कैरो थाना के सब इंस्पेक्टर ऋषिकांत शर्मा ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि वीडियोग्राफी में शव का पोस्टमार्टम कराया गया है. परिजनों द्वारा दुष्कर्म के बाद हत्या का मामला दर्ज कराया है. पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है और आगे जांच चल रही है.

Source link

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: