महराजगंज समाचार: केंद्र पर अधिकारी को देख किसान हो उठे आक्रोशित, लगाया गंभीर आरोप

 

महाराजगंज: जिले में निचलौल क्षेत्र के भारत नेपाल सरहद से सटे बहुआर गन्ना क्रय केंद्र पर सोमवार शाम को जांच करने जेष्ठ निरीक्षक गन्ना विकास समिति गडौरा के डॉ. तेज बहादुर सिंह पहुंचे थे। जिसकी भनक लगते ही मौके पर किसानों की भीड़ जुट गई। फिर किसान जांच अधिकारी से जवाब सवाल करने लगे। कुछ देर बाद किसान जांच अधिकारी पर कई तरह का आरोप लगाते हुए आक्रोशित हो उठे। गनीमत रहा कि कुछ लोगों के समझाने के बाद किसान किसी तरह शांत हो गए। उसके बाद जांच अधिकारी भी लौट गए।

आक्रोशित किसानों ने कहा कि जिम्मेदारों के खिलाफ अखबार में नाम प्रकाशित होने के बाद उनके खाते को बंद कर दिया जा रहा है। ऐसे में बगैर नाम प्रकाशित करने की बात कहते हुए इन लोगों ने बताया कि जांच अधिकारी की ओर से किसानों की समस्याओं को दूर करने के बजाय गन्ना क्रय केंद्र संचालक से रिश्वत की मांग की जा रही है।

इतना ही नहीं जेएचवी शुगर मिल बंद होने के चलते इन लोगों की मनमानी से किसान काफी पीड़ित है। विभाग के जिम्मेदार किसानों की समस्याओं पर ध्यान देने के बजाय अपनी मंसूबे को सफल बनाने में जुटे है।

 डॉ. तेज बहादुर सिंह ने कहा कि बहुआर क्रय केंद्र का औचक निरीक्षक किया गया। जहां पर पाया गया कि दो गाड़ियां बगैर टोकन के कटी थी। जो पर ट्रक लोड हो रहा था। वही किसानों की समस्याओं को देखते हुए केंद्र पर ट्रकों की संख्या बढ़ाने के लिए केंद्र संचालक को कहा गया। ताकि किसानों का गन्ना तौल समय से हो सके। वही छोटे किसानों को समय से पर्ची देने के लिए जिम्मेदारों को निर्देशित किया जाएगा। किसानों की ओर से लगाए जा रहे आरोप गलत है। उनके पास ऐसा कोई साक्ष्य नहीं है।

 

 

 

 

 

 

Source link

Visits: 0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!