संसद की सुरक्षा में सेंध गंभीर मसला, विपक्ष कर रहा राजनीति: अमित शाह

 

 

नई दिल्ली: केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने संसद की सुरक्षा में सेंधमारी को गंभीर मसला बताया है. उन्होंने कहा कि लोकसभा अध्यक्ष ने इस मुद्दे पर गंभीर संज्ञान लिया है, जबकि विपक्ष इस पूरे मामले पर राजनीति कर रहा है. मैं ऐसा बिल्कुल भी नहीं कह रहा कि इसमें कहीं कोई चूक नहीं हुई है, चूक हुई है तभी तो यह घटना हुई है.

एक न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा कि संसद की सुरक्षा लोकसभा अध्यक्ष के तहत रहती है. लोकसभा अध्यक्ष ने इस संबंध में गृह मंत्रालय को एक पत्र लिखा है. जिसके बाद हमने एक कमेटी बनाई है. एक डीजीपी के नेतृत्व में यह कमेटी बनाई गई है. कुछ ही दिनों में घटना की रिपोर्ट अध्यक्ष के पास जाएगी.

15-20 दिनों में पूरी होगी जांच

अमित शाह ने आगे कहा कि संसद में अब तक करीब 40 घटनाएं हो चुकी हैं. इसमें पिस्तौल लेकर अंदर आ जाना, सदन के भीतर कूद जाना जैसी कई घटनाएं शामिल हैं. हर बार लोकसभा अध्यक्ष की ओर से ही संज्ञान लिया गया है. इस मामले में एफआईआर भी दर्ज की गई है. उम्मीद है 15-20 दिनों में लोकसभा अध्यक्ष को रिपोर्ट सौंप दी जाएगी.

‘संसद की सुरक्षा में सेंधमारी पर राजनीति नहीं होनी चाहिए’

उन्होंने कहा कि अध्यक्ष ने आगे से संसद की सुरक्षा को किस तरह से चुस्त-दुरुस्त किया जाए उसे लेकर भी कमेटी को काम सौंपा है. कई बार सुरक्षा में सेंध लगाने के लिए नए-नए तरीके के लूप होल्स मिलते हैं, लेकिन उन्हें दूर करने की जिम्मेदारी हमारी है. मेरा मानना है कि इस मुद्दे पर राजनीति नहीं होनी चाहिए.

स्मोक स्टिक का किया गया इस्तेमाल

दरअसल, बुधवार को संसद में उस समय आपाधापी की स्थिति मच गई जब दर्शक दीर्घा में बैठे दो शख्स अचानक नीचे कूद पड़े और हंगामा करना शुरू कर दिया. इस दौरान स्मोक स्टिक का भी इस्तेमाल किया गया. इस पूरे मामले में अब तक चार आरोपियों की गिरफ्तारी हो चुकी है. फिलहाल पुलिस चारों आरोपियों से पूछताछ कर तह तक जाने का प्रयास कर रही है.

 

 

 

 

 

 

 

Source link

Visits: 0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!