मणिपुर में हिंसा के बाद फिर बढ़ा तनावः इधर फायरिंग में Volunteer की मौत, उधर धमाकों के बीच Commando को लगी गोली

इंफाल: नॉर्थ ईस्ट के मणिपुर में अज्ञात लोगों की फायरिंग के बीच इंफाल पश्चिम जिले में एक वॉलंटियर (नागरिक स्वयंसेवक) की जान चली गई। यह घटना तब हुई, जब हथियारबंद लोगों के समूह ने सूबे के जौपी पर हमला कर दिया था, जिसके बाद इम्फाल पश्चिम और कांगपोकपी जिले के बीच गांव की रखवाली कर रहे स्थानीय स्वयंसेवकों के साथ गोलीबारी हुई। समाचार एजेंसी आईएएनएस की खबर के मुताबिक, मृत युवक की पहचान जेम्सबॉन्ड निंगोम्बम के रूप में हुई है।
मणिपुर के मुख्यमंत्री एन. बीरेन सिंह ने युवक की हत्या की निंदा करते हुए कहा, “कुछ दुष्ट तत्व राज्य में शांति भंग करने की कोशिश कर रहे हैं। यह एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना है और हम इस घटना की कड़ी निंदा करते हैं। दोषियों को पकड़ने के लिए तलाशी अभियान जारी है। हम दोषी को नहीं बख्शेंगे।”
उन्होंने कहा, “मीरा पैबिस सहित कई नागरिक समाज भी राज्य में शांति बहाल करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं, लेकिन यह ताजा घटना बेहद निंदनीय है। आइए, हम बातचीत के लिए आगे आएं, बातचीत करें और मुद्दों को सौहार्दपूर्ण तरीके से हल करें और राज्य में शांति बहाल करें।”
इस बीच, गांव में अतिरिक्त सुरक्षा बल तैनात कर दिए गए और अपराधियों को पकड़ने के लिए फिलहाल तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। गांव के साथ बिष्णुपुर और कांगपोकपी जिलों के आसपास के इलाकों में तनाव है।
उधर, दौरान तेंगनोउपल जिले के मोरेह में अपराह्न करीब तीन बजकर 50 मिनट पर अज्ञात बंदूकधारियों (संभवतः उग्रवादियों) और पुलिस कमांडो के बीच भारी गोलीबारी में एक पुलिस कमांडो घायल हो गया। कमांडो की पहचान मणिपुर राइफल्स की पांचवीं बटालियन के पोन्खालुंग के रूप में हुई है।
शनिवार (30 दिसंबर, 2023) को इंफाल में अफसरों की ओर से इस बाबत यह जानकारी दी गई। उन्होंने बताया कि इंफाल-मोरेह रोड पर एम. चाह्नौ गांव में सुरक्षा बलों पर भारी हमला किया गया, जिसके बाद हमलावरों ने कुछ घरों को आग के हवाले कर दिया।
इस बीच, चश्मदीदों के हवाले से समाचार एजेंसी पीटीआई-भाषा की रिपोर्ट में बताया गया कि अज्ञात बंदूकधारियों ने पुलिस कमांडो को ले जा रहे वाहनों को उस समय निशाना बनाया, जब वे मोरेह से ‘की लोकेशन प्वाइंट’ (केएलपी) की ओर बढ़ रहे थे।
पुलिस ने बताया, ”शुरुआत में दो बम विस्फोट हुए थे, जिसके बाद 350 से 400 गोलियां चलीं।” वहीं, सूत्रों ने जानकारी दी कि न्यू मोरेह के एंट्री गेट और एम चाहनौ गांव के पास अंधाधुंध गोलीबारी जारी थी। दो घरों में आग भी लगा दी गई।

Visits: 0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!