मालदीव की Travel Industry घुटनों पर आई, भारत से बुकिंग शुरू करने की गुहार

मालदीव की ट्रैवल और टूर कंपनी ने भारत के ऑनलाइन ट्रैवल प्लेटफॉर्म ईज माय ट्रिप (Ease My Trip) से अपील की है कि मालदीव के लिए फ्लाइट्स की बुकिंग को फिर से शुरू कर दिया जाए. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ कुछ मंत्रियों की अपमानजनक टिप्पणियों पर मालदीव की तरफ से लगातार माफीनामे आ रहे हैं. मालदीव के ट्रैवल और टूर ऑपरेटर ने माफी मांगते हुए भारत के साथ संबंधों में सुधार की मांग की है.

मालदीव एसोसिएशन ऑफ ट्रैवल एजेंट्स एंड टूर ऑपरेटर्स (MATATO) की अपील भारत में एक ऑनलाइन ट्रैवल प्लेटफॉर्म ईज माय ट्रिप के सीईओ निशांत पिट्टी को लिखे एक पत्र में आई, जब ईज माय ट्रिप ने भारत के साथ एकजुटता दिखाते हुए अपनी वेबसाइट पर द्वीप राष्ट्र के लिए सभी उड़ान बुकिंग को निलंबित करने की घोषणा की. मालदीव के टूर एंड ट्रैवल एसोसिएशन ने मालदीव के लिए फ्लाइट्स की बुकिंग को फिर से शुरू किए जाने कि अपील की है.

पत्र में ये भी कहा गया है कि भारतीय बाजार मालदीव के टूरिज्म के लिए बहुत जरूरी ताकत है और हम चाहते हैं कि भारत के साथ मालदीव के संबंध सुधरें. उन्होंने ईज माय ट्रिप से अपील करते हुए कहा कि भारत फिर से मालदीव के लिए फ्लाइट्स शुरू कर दें.

 

क्यों की अपील ?

मालदीव के तीन उपमंत्रियों समेत कुछ अन्य राजनीतिज्ञों ने पीएम और लक्षद्वीप को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणियां की थीं. पीएम मोदी को लेकर टिप्पणी किए जाने पर ईज़ माई ट्रिप के सीईओ ने मालदीव के लिए सभी बुकिंग कैंसिल कर दिया था और कहा था आगे से कोई भी बुकिंग नहीं करेंगे. मालदीव की बुकिंग कैंसिल होने पर इसका असर मालदीव की टूरिज्म क्षेत्र पर पड़ा. बता दें कि मालदीव जाने वाले टूरिस्ट में भारतीय सबसे आगे हैं. पिछले साल के आंकड़ों को देखें तो करीब 2 लाख भारतीय वहां घूमने गए. हनीमून पर जाने वाले कपल्स के भी मालदीव एक बेहतर डेस्टिनेशन माना जाता है.

क्या था विवाद?

बता दें कि पीएम मोदी लक्षद्वीप का दौरा किया था, जिसके बाद पीएम मोदी ने इंटरनेट मीडिया प्लेटफार्म एक्स पर लक्षद्वीप के समुद्र तटों की तस्वीरें शेयर कर लिखा था कि लोगों को बाहर जाने की बजाय समुद्र तटीय पर्यटन के लिए लक्षद्वीप का दौरा करना चाहिए और इसे बेहतरीन टूरिस्ट डेस्टिनेशन भी बताया था.

तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद मालदीव के तीन उपमंत्रियों समेत कुछ अन्य राजनीतिज्ञों ने पीएम और लक्षद्वीप को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणियां की थीं. इसके बाद भारतीय भड़क उठे थे और हजारों भारतीयों ने मालदीव की बुकिंग रद्द कराईं.

 

 

 

 

 

 

 

 

Source link

Visits: 6

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!