महराजगंज समाचार: Lok Sabha Elections में सुरक्षा की कमान संभालेगी 48 कंपनी Para Military Force

महराजगंज। आगामी लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections) से जुड़ी सभी तैयारियों को लेकर जिले का पुलिस व प्रशासन महकमा मिशन मोड पर है। मतदाता सूची, मतदान केन्द्र, मतदेय स्थल, मतदान कार्मिकों की फीडिंग के बाद अब चुनावी सुरक्षा में आने वाली पुलिस-फोर्स के ठहरने के लिए स्थानों को चिन्हित करने की कवायद जारी है। स्थलों को चिन्हित करने के बाद उसे फोर्स के ठहरने के लिए अधिग्रहित कर लिया जाएगा।

जिले में लोकसभा चुनाव में सीपीएमएफ की 48 कंपनी आने की उम्मीद है। इसके अलावा गैर जिलों से भी पीएसी, पुलिस बल एवं होमगार्ड के जवान चुनावी ड्यूटी में आएंगे। सीपीएमएफ के ठहरने के लिए 48 स्कूल को चिन्हित किया जा रहा है। इन स्कूलों में शौचालय आदि का ब्यौरा एकत्र किया जा रहा है। इसके अलावा पुलिस, पीएसी व होमगार्ड के ठहरने के लिए भी स्कूल भवन चिन्हित किया जा रहा है। कुल 75 स्कूलों को फोर्स के ठहरने के लिए रिजर्व किया जाएगा। एसपी सोमेन्द्र मीना के निर्देश पर सभी सीओ व एसओ अपने-अपने क्षेत्र में सभी सुविधाओं से परिपूर्ण विद्यालयों को चिन्हित करने में जुट गए हैं।

पिछले दो चुनाव में पकड़ी 66 लाख रूपये की शराब

लोकसभा चुनाव में अवैध शराब व नगदी पर कार्रवाई के लिए अभी से तैयारी शुरू कर दी गई है। शराब के अवैध ठिकानों पर दबिश दी जा रही है जिससे चुनाव को लेकर कोई भंडारण नहीं कर पाए। जिला निर्वाचन कार्यालय के अनुसार वर्ष 2019 के चुनाव में 18 लाख रूपये मूल्य के 7 हजार लीटर शराब व वर्ष 2022 के चुनाव में 48 लाख रूपये मूल्य के 18 हजार लीटर अवैध शराब का सीजर किया गया था।

नगदी मुद्रा पर भी स्ट्रैटिक सर्विलांस व फ्लाइंड स्क्वाड की रहेगी नजर

लोकसभा चुनाव में नगदी के प्रवाह को रोकने के लिए स्ट्रैटिक सर्विलांस टीम व फ्लाइंड स्क्वाड दस्ता गठित होगा। वर्ष 2019 के चुनाव में इन दोनों दस्ता ने 25 लाख भारतीय करेंसी व 18 लाख नेपाली करेंसी को पकड़ा था। वर्ष 2022 के चुनाव में 15 लाख भारतीय व छह लाख रूपये नेपासी मुद्रा बरामद किया था। इसके अलावा इन दोनों चुनाव में 10 लाख 75 हजार रूपये का नारकोटिक्स ड्रग पकड़ा गया था।

इंडो-नेपाल सीमा क्षेत्र में सर्विलांस व उड़न दस्ता रहेगा सक्रिय

लोकसभा चुनाव में भारत-नेपाल की चौरासी किसी खुली सीमा संवेदनशील रहती है। बार्डर से मादक पदार्थ व मुद्रा का अवैध विनियम का कारोबार चलता रहता है। इस पर रोक लगाने के लिए स्ट्रैटिक सर्विलांस टीम व फ्लाइंड स्क्वाड की टीम सीमा क्षेत्र में अधिक रहेगी। पिछले चुनाव में पांच-पांच मजिस्ट्रेट स्ट्रैटिक सर्विलांस टीम की कमान संभाल रहे थे। नौतनवा व सिसवा विधानसभा को छोड़ अन्य विधानसभा में तीन-तीन मजिस्ट्रेट को स्ट्रैटिक सर्विलांस का प्रभारी बनाया गया था।

लोकसभा चुनाव की सभी तैयारी निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देश पर पूरी की जा चुकी हैं। चुनाव में अवैध शराब व नगदी के प्रवाह को रोकने के लिए स्ट्रैटिक सर्विलांस टीम व फ्लाइंड स्क्वाड गठित होगा। अवैघ शराब के खिलाफ कार्रवाई जारी है।

डॉ. पंकज कुमार वर्मा-एडीएम

लोकसभा चुनाव में चुनावी ड्यूटी में आने वाली फोर्स के ठहरने के लिए स्कूलों को चिन्हित किया जा रहा है। कुल करीब 75 भवन इसके लिए चिन्हित कर आरक्षित कराए जाएंगे। चुनाव में यहां फोर्स ठहरेगी।

आतिश कुमार सिंह-एएसपी

 

 

 

 

 

 

 

 

Source link

Visits: 4

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!