IS के AMU मॉड्यूल से जुड़ा एक और स्‍टूडेंट अलीगढ़ से अरेस्‍ट, UP में आतंकी वारदात की थी साजिश

 

लखनऊ/अलीगढ़: आईएसआईएस के एएमयू मॉड्यूल से जुड़े एक और आरोपित छात्र आमस अहमद उर्फ फराज (22 वर्ष) को यूपी एटीएस ने सोमवार को अलीगढ़ से गिरफ्तार कर लिया है। उसके एक साथी अब्दुल समद मलिक ने चार जनवरी को कोर्ट में सरेंडर कर दिया था। एडीजी एटीएस मोहित अग्रवाल ने बताया कि आमस अहमद उर्फ फराज अहमद मूलरूप से प्रयागराज के करेली स्ठित जीटीबी नगर का है। वह अलीगढ़ में मेरिस हॉस्टल स्थित वीएम (विकार उल मुल्क) हॉल में रहता था। फराज ने वर्ष 2022 में अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय से मनोविज्ञान में स्नातक किया था और 2023 में एमबीए के लिए प्रवेश परीक्षा में सम्मिलित हुआ था। साथियों की गिरफ्तारी के बाद से ही वह फरार चल रहा था।

खतीब अहमद और अब्दुल समद मलिक निवासी संभल की यूपी एटीएस को तलाश थी। अब्दुल समद मलिक पर 25,000/- रुपये का ईनाम घोषित था। उसने कोर्ट में सरेंडर कर दिया था जबकि आमस उर्फ फराज की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही थी। सोमवार को एटीएस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

7 लोग अब तक पकड़े गए, ज्‍यादातर एएमयू के

फराज साथियों के साथ मिलकर एएमयू में आईएसआईएस का मॉड्यूल तैयार कर अन्य लोगों को भी इसमें जोड़ रहा था। उसने आईएसआईएस की शपथ भी ली थी। फराज साथियों के साथ मिलकर बड़ी आतंकी घटना करने की फिराक में था। कोर्ट में सरेंडर करने वाला 25 हजार का इनामी अब्दुल समद मलिक एएमयू से मास्टर इन सोशल वर्क कर रहा था। एटीएस जल्द ही दोनों को कस्टडी रिमांड में लेगी। एटीएस इस मामले में इससे पहले सात लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। इनमें से ज्यादातर एएमयू के छात्र और पूर्व छात्र हैं।

 

 

 

 

 

 

 

 

Source link

Visits: 0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!