सिपाही को गाड़ी से रौंदकर मारने वाले बकरा चोर का एनकाउंटर, कौशांबी पुलिस से हुई मुठभेड़ में लगी गोली

 

कौशांबी: कौशांबी पुलिस (Kaushambi news) एनकाउंटर में सिपाही अवनीश दुबे की हत्‍या का आरोपी एनकाउंटर में पकड़ा गया है। एक सप्‍ताह पहले सराय आकिल थाना क्षेत्र के पटेल चौराहे पर बकरा चोरों ने सिपाही अवनीश दुबे को गाड़ी से रौंद दिया था। बाद में अवनीश दुबे की मौत हो गई थी। पुलिस की गोली से घायल आरोपी को इलाज के अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है।

पुलिस और एसओजी की संयुक्त टीम के सर्च ऑपरेशन के दौरान पुरखास और युसुफपुर गांव के पास आरोपी से आमना सामना हुआ। पुलिस को देखते ही उसने पुलिस टीम पर फायर कर दिया। बचाव में पुलिस टीम ने भी गोली चलाई, जो उसके दाहिने पैर में जा धंसी। घायल अवस्था में पुलिस ने उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां उसकी हालत सामान्य बताई जा रही है।

उस पर आरोप है कि पडोसी जनपद प्रयागराज से आकर वह बकरा चोरी गैंग चलाता था। कौशांबी के एसपी बृजेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि 29 जनवरी की सुबह बकरा चोरी घटना की सूचना पर गश्‍त पर रहे सिपाही अवनीश दुबे ने अपने एक साथी के साथ संदिग्ध बोलेरो वाहन का पीछा किया। सराय आकिल के पटेल चैराहा पर रोकने का प्रयास किया। तेज रफ्तार बोलेरो सिपाही का टक्कर मारते हुए भाग गई। इस टक्‍कर से सिपाही अवनीश दुबे गंभीर रूप से घायल हो गया।

घायल अवस्था में साथी सिपाही ने उसे स्थानीय चिकित्सालय में भर्ती कराया जहां उसकी हालत नाजुक देख प्रयागराज रेफर कर दिया गया। वहां चिकित्सकों ने उसे देखते ही मृत घोषित कर दिया था। बोलेरो की तलाश में पुलिस ने सीसीटीवी की मदद ली। मुखबिर की सूचना पर पता चला कि बकरा चोर राजेश केसरवानी पुत्र राम कृष्ण केसरवानी निवासी शंकरगढ प्रयागराज, पुरखास और युसुफपुर गांव के निकट छिपा हुआ है। पुलिस टीम के सर्च ऑपरेशन में पकडे जाने के भय से उसने पुलिस टीम पर फायर झोंक दिया। आत्मरक्षा में पुलिस की गोली से वह गंभीर घायल हो गया। उसके पास 1 अदद 32 बोर की पिस्टल और मैगजीन बरामद हुई है। उस पर पहले भी बकरा और भेड़ चोरी के केस दर्ज हैं। उसके गैंग के अन्य सदस्यों की तलाश की जा रही है।

 

 

 

 

 

 

 

 

Source link

Visits: 61

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!