Congress की भारत जोड़ो न्याय यात्रा Manipur से शुरू, बोले राहुल गांधी- शासन का बुनियादी ढांचा विफल हो गया है

मणिपुर : कांग्रेस की भारत जोड़ो न्याय यात्रा मणिपुर से शुरू हो गई है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी और मल्लिकार्जुन खड़गे ने रविवार यानि कि 14 जनवरी को ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ को हरी झंडी दिखाई। मणिपुर के अलावा, यात्रा चार पूर्वोत्तर राज्यों – नागालैंड (दो दिनों में 257 किमी), अरुणाचल प्रदेश (एक दिन में 55 किमी), मेघालय (एक दिन में पांच किमी) और असम (आठ दिनों में 833 किमी) को कवर करेगी।

क्या बोले राहुल गांधी

यात्रा की शुरुआत करते हुए कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा- ” हम आपके दुख, हानि और दुख को समझते हैं। हम आपसे वादा करते हैं कि हम वह सब वापस लाएंगे जिसे आपने महत्व दिया है, हम वह सद्भाव, शांति, स्नेह वापस लाएंगे जिसके लिए यह राज्य हमेशा से जाना जाता है।”

मणिपुर से क्यों हुई यात्रा की शुरुआत

राहुल गांधी ने भारत जोड़ो न्याय यात्रा की शुरुआत में इसके पहले पार्ट को याद करते हुए कहा कि हमने ‘भारत जोड़ो यात्रा’ शुरू की, इसमें हमने नफरत मिटाने की बात की, भारत जोड़ने की बात की। उन्होंने- “मैं चाहता था कि कन्याकुमारी से कश्मीर की तरह ही ईस्ट से वेस्ट की भी यात्रा हो। ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ को लेकर लोगों ने कहा कि यह यात्रा वेस्ट से शुरू कीजिए, कुछ ने कहा कि यात्रा ईस्ट से शुरू होनी चाहिए। मैंने उन्हें साफ कहा कि अगली यात्रा सिर्फ मणिपुर से ही शुरू हो सकती है।”

महाराष्ट्र में यात्रा की समाप्ति

कांग्रेस की भारत जोड़ो न्याय यात्रा बिहार, झारखंड, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान सहित हिंदी भाषी राज्यों को भी कवर करेगा और 20 या 21 मार्च को महाराष्ट्र में समाप्त होगा। मणिपुर में, यात्रा को इंफाल के थौबल जिले के एक निजी मैदान से हरी झंडी दिखाई गई। यात्रा एक दिन के लिए मणिपुर में होगी और 100 किमी से कुछ अधिक दूरी तय करेगी। यात्रा आगे चलकर 15 राज्यों के 100 लोकसभा क्षेत्रों से होकर गुजरेगी। यात्रा पश्चिम बंगाल, बिहार, झारखंड, ओडिशा, छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान, गुजरात और महाराष्ट्र तक जाएगी।

Visits: 0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!