जम्मू-कश्मीर में खुला निवेश का रास्ता, इन बड़ी कंपनियों की बना पसंद, मिलेगा लाखों को रोजगार

 

जम्मू-कश्मीर विकास के रास्ते पर तेजी से बढ़ रहा है, घाटी में निवेश और रोजगार के अवसर बढ़ोतरी हो रही है. दरअसल जम्मू-कश्मीर सरकार को जुलाई के पहले हफ्ते में ही कई कंपनियों से जमीन खरीदने के करीब 6900 आवेदन पत्र मिले हैं. जिन में कश्मीर में एमआर ग्रुप जबकि जम्मू संभाग में भी कुछ बड़ी कंपनियों को जमीन फरहाम की गई हैं.

एक रिपोर्ट के मुताबिक, जम्मू कश्मीर में जमीन की इच्छुक कंपनियों में से फिलहाल कश्मीर में दुबाई एमआर ग्रुप को और जम्मू संभाग में पूर्व श्री लंका के क्रिकेटर मुथया मुरलीधरन की कंपनी,वेलस्पन ग्रुप को भी जमीन फरहाम की गई हैं.

लाखों को मिलेगा रोजगार

इन कंपनियों को यह दी गई जमीन केंद्र प्रशासित प्रदेश जम्मू कश्मीर में 1.23 लाख करोड़ के निवेश को खींचेगी जबकि इन में 5 लाख से ज्यादा लोगों को रोजगार का रास्ता खोलेगा. रिपोर्ट के अनुसार, जम्मू कश्मीर प्रदेश खासकर जम्मू संभाग में 1902 आवेदन पत्र सरकार को मिले हैं, जिन में ज्यादातर आवेदन कठुआ जिले के लिए मिले हैं, क्योंकि यह जिला पंजाब और हिमाचल के साथ जुड़ा हुआ हैं. दूसरी तरफ कश्मीर संभाग में 5000 से अधिक आवेदन पत्र मिले हैं जोकि अधिकतर छोटी और मध्य वर्ग उद्योगयों द्वारा भरे गए हैं.

बड़ी कंपनियों को मिली जमीन

रिपोर्ट के अनुसार जम्मू संभाग में 21,000 करोड़ का निवेश कई प्रोजेक्ट्स में हुआ हैं, जिन में 15 बड़े प्रोजेक्टस है जिनकी कीमत 14594 करोड़ हैं. इसमें कठुआ भगथाली इंडस्ट्रियल एस्टेट भी शामिल हैं.

श्रीनगर के बाहरी क्षेत्र सिमपूरा में बीते साल मार्च में जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिंहा ने फॉरेन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट (FDI) के तहत दुबई की एमआर ग्रुप को एक मेगा मॉल और आईटी टावर्स बनाने के लिए दी गई जमीन का भूमि पूजन कर यह कहा कि मॉल और दुबई सरकार के साथ संबद्ध परियोजनाएं न केवल जम्मू-कश्मीर के आर्थिक विकास को बढ़ावा देंगी, बल्कि भारत और संयुक्त अरब अमीरात के बीच द्विपक्षीय व्यापार और निवेश संबंधों को मजबूत करने के साझा दृष्टिकोण को हासिल करने में भी मदद करेंगी.

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!