वाहन चलाते समय इन बातों का रखें खास ख्याल, वरना हो जाएगा चालान

Traffic Challan Rate List : अगर आपको लगता है कि पिछली बार की तरह आप यातायात नियमों की अवहेलना से बच सकते हैं, तो आप गलत हैं. दिल्ली और गुरुग्राम में ट्रैफिक पुलिस (Traffic Police) ने यातायात में सुधार करने के लिए कमर कस ली है, जिसके लिए ट्रैफिक चालान काटने की बात आने पर वह बेरहम हो रही है. दिल्ली-एनसीआर में इन दिनों ट्रैफिक नियमों (Traffic Rules) का पालन कराने के लिए यातायात पुलिस ने कमर कस ली है. लगातार नियमों का उल्लंघन करने वालों पर कार्रवाई की जा रही है और चालान काटे जा रहे हैं.

अगर आप कहीं भी जाने के लिए किसी भी तरह के वाहन प्रयोग करते हैं. तो यह बेहद जरुरी हो जाता है, कि आप उस व्हीकल के सभी डॉक्यूमेंट अपने साथ रखें. किसी भी वैध वाहन के लिए सरकार द्वारा कागजात जारी किये जाते हैं. जिससे आप यह दावा कर सकें, कि वो वाहन आपका है. इन कागजों में वाहन का रजिस्ट्रेशन कार्ड, इंश्योरेंस, पीयूसी (Pollution Under Control) और जो वाहन चला रहा है. उसका डाइविंग लइसेंस होना जरूरी है. इन कागजों के होने पर वाहन और वाहन मालिक दोनों ही वैध माने जाएंगे और आर आप चालान से आसानी से बच सकते हैं.

सख्ती के लिए बढ़ी ट्रैफिक चालान की दरें

रिपोर्ट्स के मुताबिक, दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने पिछले कुछ दिनों में नियम तोड़ने वाले लोगों चालान काटे हैं, इसमें काले शीशे के खिलाफ, पीछे की सीट बेल्ट नहीं लगाने, नाबालिग के वाहन चलाने, एक ओर गलत दिशा में वाहन चलाने के खिलाफ चालान शामिल हैं, हालांकि ट्रैफिक पुलिस ने इन चालानों के खिलाफ कुछ और राशि बढ़ा दी है और यहां नीचे उल्लिखित सभी की सूची दी गई है.

ये भी पढ़े-  PM Kisan Yojana: 13वीं किस्त आने से पहले ऐसे करें किसान अपना स्टेटस चेक, जान पाएंगे किस्त मिलेगी या नहीं

क्रमांक चालान प्रकार चालान मूल्य
1 रॉन्ग साइड ड्राइविंग 25,000 रु
2 बिना लाइसेंस के गाड़ी चलाने पर 5,000 रु
3 बिना सीट बेल्ट व हेलमेट के वाहन चलाने पर 1000 रु
4 गलत नंबर प्लेट 3,000 रु
5 कार की खिड़कियों पर काली फिल्म 10,000 रु
6 कार में पीछे सील बेल्ट नहीं लगाने पर 1,000 रु
7 नाबालिग को गाड़ी चलाने पर 25,000 रुपए या 3 साल की जेल
8 चप्पल पहनकर मोटरसाइकिल चलाने पर 1,000 रु

अगर आप इन चालनों से बचना चाहते हैं तो सभी यातायात नियमों का पालन करें क्योंकि वे आपकी सुरक्षा के लिए हैं और उनका पालन न करना आपकी सुरक्षा के लिए ही हानिकारक हो सकता है.

Source link

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: