खेल मंत्रालय ने Wrestling Federation of India की सभी एक्टिविटीज पर लगाई रोक, असिस्टेंट सेक्रेटरी को किया सस्पेंड

नई दिल्ली:  खेल मंत्रालय ने भारतीय कुश्ती महासंघ (WFI) की रोजमर्रा की सभी गतिविधियों को रद्द करने का आदेश जारी कर दिया है। खिलाड़ियों के रैंकिंग वाले टूर्नामेंट भी रद्द करने के आदेश जारी किए गए हैं। वहीं  भारतीय कुश्ती महासंघ के असिस्टेंट सेक्रेटरी विनोद तोमर को भी सस्पेंड कर दिया है। बता दें कि गोंडा में तीन दिनों तक चलने वाली कुश्ती चैंपियनशिप की आज ही शुरुआत हुई थी लेकिन अब इस चैंपियनशिप को भी रद्द कर दिया गया है। गोंडा में इस खेल के आयोजन में कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह भी मौजूद थे। बृजभूषण शरण सिंह पर महिला पहलवानों ने यौन शोषण का आरोप लगाया है।

खेल मंत्रालय के सूत्रों ने कहा कि कुश्ती महासंघ के असिस्टेंट सेक्रेटरी विनोद तोमर की उपस्थिति ‘इस मामले की जांच’ को प्रभावित कर सकती है। सूत्रों ने यह भी कहा कि मंत्रालय की जल्द बनने वाली निगरानी समिति के पास भारतीय कुश्ती से जुड़े मामलों पर सभी फैसले लेने का अधिकार होगा। शुक्रवार देर रात एक मैराथन बैठक के बाद खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि सरकार ने विनेश फोगाट, बजरंग पूनिया, साक्षी मलिक और रवि सहित देश के कुछ शीर्ष पहलवानों द्वारा सिंह और डब्ल्यूएफआई पर लगाए गए आरोपों की जांच के लिए एक निगरानी समिति बनाने का फैसला किया है। कुछ पहलवानों ने आरोप लगाया था कि तोमर ने एथलीटों से रिश्वत ली और वित्तीय भ्रष्टाचार में शामिल थे, जिससे उन्हें करोड़ों की संपत्ति बनाने में मदद मिली। 

मंत्रालय ने विज्ञप्ति में आरोप लगाया , ‘भारतीय कुश्ती महासंघ को शनिवार को सूचित किया है कि महासंघ के खिलाफ एथलीटों द्वारा लगाए गए विभिन्न आरोपों की जांच के लिए एक निगरानी समिति नियुक्त करने के सरकार के फैसले के मद्देनजर, डब्ल्यूएफआई की सभी गतिविधियों को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने का फैसला किया। यह निलंबन तब तक जारी रहेगा जब तक निगरानी समिति डब्ल्यूएफआई के दिन-प्रतिदिन के कामकाज को संभालती है।

ये भी पढ़े-  Today Breaking News Live: असम-मेघालय के सीमा विवाद पर सुप्रीम कोर्ट ने हाईकोर्ट का फैसला पलट दिया

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: