Russia-Ukraine War: रूस की अब खैर नहीं! यूक्रेन को मिलेंगे ‘ब्रैडले फाइटिंग व्हीकल्स’, जानिए क्या है ये पावरफुल अमेरिकी ‘लड़ाकू वाहन’

वाशिंगटन. रूस और यूक्रेन (Russia-Ukraine War) के बीच लंबे समय से युद्ध जारी है. यूक्रेन (Ukraine) पर कब्‍जा करने के ल‍िए रूस युद्ध कर रहा है. ऐसे में अब युद्ध में यूक्रेन की मदद करने के ल‍िए अमेर‍िका ‘ब्रैडले फाइटिंग व्हीकल्स’ (Bradley Fighting Vehicle) देने पर व‍िचार कर रहा है. इससे यूक्रेन को रूस के ख‍िलाफ युद्ध लड़ने में बड़ी मदद म‍िल सकेगी. दरअसल, ब्रैडले एक लड़ाकू वाहन (Fighting Vehicles) है, जिसका इस्तेमाल सैनिकों के परिवहन में भी किया जा सकता है. इसमें पहियों के बजाय ‘ट्रैक’ होते हैं और यह तोप से अधिक बड़ा तथा शक्तिशाली है.

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन (US President Joe Biden) ने बुधवार को कहा कि उनका प्रशासन रूस और यूक्रेन में जारी युद्ध के बीच कीव (Ukraine Kyiv) को ‘ब्रैडले फाइटिंग व्हीकल्स’ (BFV) भेजने पर विचार कर रहा है. इससे यूक्रेन को लड़ाई में मदद मिलेगी. बाइडन ने केंटुकी में पत्रकारों से बातचीत के दौरान जानकारी दी है. राष्ट्रपति से पत्रकारों ने प्रश्न किया था कि क्या उनकी यूक्रेन को बख्तरबंद लडाकू वाहन भेजने की कोई योजना है. इस पर बाइडन ने अपने जवाब में कहा ‘हां.’ हालांकि, उन्होंने इस संबंध में कोई विस्तृत जानकारी नहीं दी.

बताते चलें क‍ि रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध को करीब 11 माह हो गए हैं. ऐसे में कीव अमेरिका से उसे अतिरिक्त टैंक, लंबी दूरी की मिसाइलें, हवाई रक्षा प्रणाली आदि देने की मांग कर रहा है. कड़ाके की ठंड के बावजूद पूर्वी यूक्रेन में दोनों देशों के लड़ाकों के बीच भीषण लड़ाई चल रही है.

ये भी पढ़े-  नेपाल क्रैश साइट से मिले विमान हादसे का ब्लैक बॉक्स पहुंचा सिंगापुर, जानें क्या है प्रमुख वजह?

गौरतलब है कि ब्रैडले एक लड़ाकू वाहन है, जिसका इस्तेमाल सैनिकों के परिवहन में भी किया जा सकता है. इसमें पहियों के बजाय ‘ट्रैक’ होते हैं और यह तोप से अधिक बड़ा तथा शक्तिशाली है. अमेरिकी सेना में ‘ब्रैडले’ का अब भी इस्तेमाल होता है. हालांकि, वह लंबे समय से इसका विकल्प तलाश रही है. यूक्रेन के राष्ट्रपति व्लोदिमीर जेलेंस्की (President Volodymyr Zelenskyy) पिछले माह अमेरिका गए थे. उन्होंने अमेरिका और अन्य पश्चिमी देशों को स्पष्ट किया था कि यूक्रेन को अधिक आधुनिक हथियारों की जरूरत है.

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Source link

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: