Maharajganj News: दस माह के मासूम बच्चे की पिता ने ली जान, मासूम बेटे का शव गोद में लेकर थाने पहुंची माँ

चन्द्रभान राज की रिपोर्ट-

 

 

महराजगंज : एक महिला अपने दस माह के मासूम बच्चे का शव गोद में लेकर रोती-बिखलती परसामलिक थाना में पहुंची। थानेदार को अपने मासूम बच्चे का शव दिखाते हुए बोली कि साहब मेरे पति ने इसे मार डाला है। इस घटना से थाने के पुलिस कर्मी सकते में आ गए। फौरन गांव में पहुंच बच्चे के हत्यारोपित पिता को गिरफ्तार कर लिया। पत्नी की तहरीर पर पति के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर विधिक कार्रवाई शुरू कर दी।

यह घटना मंगलवार देर रात की है। परसामलिक थाना क्षेत्र के झिंगटी गांव निवासी चंद्रशेखर चौधरी उर्फ झिनक(30) नेपाल के रूपन्देही जिले में एक ईंट-भट्ठा पर कार्य करता है। मंगलवार की रात वह नेपाल से घर पहुंचा। पत्नी से किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई। इसके नाराज पत्नी आस्था चौधरी(22) अपने दस माह के मासूम बच्चे को गोद में लेकर मायके जाने के लिए घर से निकली। पत्नी का आरोप है कि उसी दौरान पति उसके गोद से बच्चे को छीन उसे पटक दिया। इससे घटना स्थल पर ही मासूम की मौत हो गई। मासूम बच्चे का शव लेकर मां रोते-बिलखते देर रात परसामलिक थाना पहुंची। थानाध्यक्ष को मासूम का शव दिखाते हुए पूरी घटना की बिलखते हुए जानकारी दी। यह दृश्य देख मौजूद पुलिस कर्मियों की रूह कांप गई। रात में ही पुलिस दबिश देकर मासूम बेटे के हत्यारोपित पिता को हिरासत में लेकर विधिक कार्रवाई शुरू कर दी।

दो साल पहले हुई थी चंद्रशेखर और आस्था की शादी, पहला बेटा था मासूम शिखर

ये भी पढ़े-  सोनौली बॉर्डर पर चांदी के आठ दीपक के साथ लद्दाख का युवक गिरफ्तार

चंद्रशेखर चौधरी नेपाल के रूपन्देही जिले में एक ईंट-भट्ठे पर पिछले कई साल से काम करता है। आस्था का भी मायका नेपाल के बरवा गांव में है। आते-जाते समय दोनों में जान-पहचान हुई। दो साल पहले दोनों ने प्रेम विवाह कर दिया। दस माह पहले पहला बेटा शिखर पैदा हुआ। दोनों की गृहस्थी ठीक-ठाक चल रही थी। पर, रात पति-पत्नी के बीच कहासुनी के बाद क्रोध की ज्वाला ऐसी भड़की की मंगलवार की रात परिवार के लिए अमंगल साबित हो गई।

मासूम बच्चे की मौत के मामले में पत्नी की तहरीर पर पति चंद्रशेखर चौधरी के खिलाफ धारा 302, 306 आईपीसी के तहत केस दर्ज कर लिया गया है। आरोपित को हिरासत में लेकर विधिक कार्रवाई की जा रही है। मासूम बच्चे के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

अमरेन्द्र कुमार कन्नौजिया-थानाध्यक्ष परसामलिक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: