शानदार शतक से नए साल की शुरुआत, भारतीय ओपनर को फिर मिलेगा टीम में वापसी का टिकट?

भारतीय क्रिकेट टीम को इस साल अपनी पहली टेस्ट सीरीज अगले महीने से ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेलनी है. इस सीरीज के लिए टीम इंडिया में ओपनर की जगह के लिए अभी भी दावेदारी नजर आती है क्योंकि केएल राहुल और शुभमन गिल का प्रदर्शन उतार-चढ़ाव भरा रहा है. ऐसे में कुछ अन्य दावेदारों की भी नजर इस पर होगी ही. ऐसे ही एक खिलाड़ी ने नए साल की शुरुआत शतक के साथ की है और अब जाहिर तौर पर उम्मीद होगी कि टीम इंडिया में वापसी का टिकट मिल जाए. ये बल्लेबाज है- मयंक अग्रवाल.

टेस्ट क्रिकेट में टीम इंडिया के ओपनर रह चुके मयंक पिछले एक साल में धीरे-धीरे कर स्क्वॉड से बाहर हो चुके हैं. अब वापसी के लिए उन्हें जोरदार प्रदर्शन करने की जरूरत है. रणजी ट्रॉफी के शुरुआती मैचों में बड़ी पारी खेलने में नाकाम रहे कर्नाटक के इस दिग्गज बल्लेबाज ने आखिर 2023 की पहली ही पारी में ये कमी भी पूरी कर दी.

नाबाद शतक से आगाज

बेंगलुरू में खेले जा रहे एलीट ग्रुप सी के एक मुकाबले में कर्नाटक के कप्तान मयंक ने छत्तीसगढ के खिलाफ शानदार शतक जमा दिया. बुधवार 4 जनवरी को मैच के दूसरे दिन मयंक ने कर्नाटक की पहली पारी में 191 गेंद में नौ चौकों और पांच छक्कों की मदद से नाबाद 102 रन बनाये. कप्तान के इस शतक की मदद से कर्नाटक ने दिन का खेल खत्म होने तक पहली पारी में एक विकेट पर 202 रन बना लिये हैं. अग्रवाल ने साथी ओपनर रविकुमार समर्थ (81 रन) के साथ पहले विकेट के लिये 163 रन की साझेदारी की.

ये भी पढ़े-  13 छक्के, 13 चौके...ठोके 346 रन, शुभमन गिल से पहले 2 बल्लेबाजों ने ढाया कहर

एक साल पहले पिछला टेस्ट

पिछले साल श्रीलंका टेस्ट सीरीज तक भारतीय टीम के लिए ओपनिंग कर रहे मयंक हाल ही में बांग्लादेश दौरे पर टेस्ट सीरीज का हिस्सा नहीं थे. उनकी जगह टीम इंडिया बंगाल के युवा ओपनर अभिमन्यु ईश्वरन को बैकअप ओपनर के तौर पर देख रही है, जबकि कप्तान रोहित के अलावा राहुल और गिल ओपनिंग की जिम्मेदारी निभाते रहे हैं. ऐसे में ठीक एक साल पहले अपना पिछला टेस्ट खेलने वाले मयंक के लिए वापसी आसान नहीं होगी लेकिन लगातार रन बनाते रहे, तो 4 टेस्ट शतक वाले बल्लेबाज की वापसी से इनकार भी नहीं किया जा सकता.

छत्तीसगढ़ 311 पर ऑल आउट

मैच की बात करें तो इससे पहले छत्तीसगढ की पहली पारी में 311 रन पर समाप्त हुई. बुधवार को छत्तीसगढ़ ने कल के स्कोर पांच विकेट पर 267 रन से आगे खेलना शुरू किया. टीम ने बचे हुए पांच विकेट सिर्फ 44 रन के भीतर गंवा दिये. उसके लिए आशुतोष सिंह (135) कल के स्कोर में 17 रन ही जोड़ सके. कर्नाटक के लिए दाहिने हाथ के तेज गेंदबाज वी कावेरप्पा ने 67 रन देकर पांच विकेट लिये जबकि वासुकी कौशिक को चार विकेट मिले.

 

 

 

 

 

 

 

 

Source link

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: