चुनाव लोकतंत्र का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा, न हो कोई गड़बड़ी: डीएम

चन्द्रभान राज की रिपोर्ट-

 

 

खंड स्नातक निर्वाचन सकुशल संपादन हेतु किया प्रशिक्षित-

 

 

महराजगंज। जिलाधिकारी सत्येन्द्र कुमार की अध्यक्षता उ.प्र. विधान परिषद गोरखपुर-फैजाबाद खंड स्नातक निर्वाचन क्षेत्र का निर्वाचन-2023 के निर्वाचन के सकुशल संपादन हेतु कलेक्ट्रेट सभागार में जोनल/सेक्टर मजिस्ट्रेटों, पीठासीन अधिकारियों और मतदान अधिकारी प्रथम व द्वितीय को मतदान प्रक्रिया के संदर्भ में प्रशिक्षित किया गया।

जिलाधिकारी ने उपस्थित अधिकारियों व मतदानकार्मिकों को संबोधित करते हुए कहा कि चुनाव लोकतंत्र का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है। इसलिए सभी अधिकारी व मतदानकार्मिक प्रशिक्षण को पूरी गंभीरता से लें और किसी प्रकार की शंका प्रश्न हो तो उसका समाधान कर लें। उन्होंने सभी लोगों को पीठासीन अधिकारी पुस्तिका का विस्तृत अध्ययन करने का निर्देश दिया, ताकि सम्पूर्ण प्रक्रिया को अच्छी तरह समझ लें और मतदान के वक्त न सिर्फ स्वयं स्पष्ट रहें बल्कि किसी अन्य को भी शंका होने पर उसका समाधान कर सकें। उन्होंने कहा कि सभी लोग समयसारिणी और निर्धारित प्रक्रिया का कड़ाई से पालन चुनाव के दौरान सुनिश्चित करें।

मुख्य विकास अधिकारी गौरव सिंह सोगरवाल ने कहा कि सभी अधिकारी अनुभवी हैं और पंचायत चुनावों में मतपत्र से सफलतापूर्वक चुनाव करा चुके हैं, इसलिए इस चुनाव में भी परेशानी नहीं होनी चाहिए। सभी लोग उन बातों को विशेष तौर पर समझ लें जो बाकी चुनावों से इसमें अलग है, जैसे कि मतदान की एकल संक्रमणीय व्यवस्था। उन्होंने कहा कि 25 जनवरी को पुनः प्रशिक्षण सत्र आयोजित किया जाएगा और उम्मीद है कि दूसरे प्रशिक्षण के पश्चात किसी को भी किसी प्रकार का संदेह नहीं होगा।

अपर जिलाधिकारी डॉ. पंकज कुमार वर्मा ने चुनाव की प्रक्रिया से उपस्थित लोगों को अवगत कराते हुए कहा कि चुनाव की प्रक्रिया स्पष्ट है और सभी लोगों को सुनिश्चित करना है कि चुनाव आयोग के निर्देशों का अक्षरशः अनुपालन हो। उन्होंने कहा कि सभी वरिष्ठ अधिकारी सभी प्रकार के सुझाव व सलाह के लिए मौजूद हैं और किसी प्रकार की शंका होने पर उसे चुनाव के लिए बनाए गए वाट्स एप ग्रुप में डाल सकते हैं। प्रत्येक शंका का समाधान किया जाएगा।

ये भी पढ़े-  बीमार शिक्षक के जीवन को बचाने की मुहिम में जुटे लोग

इससे पूर्व जिला विकास अधिकारी राकेश कुमार पांडेय द्वारा उपस्थित अधिकारियों व कार्मिकों को प्रशिक्षण दिया गया। इस दौरान उनके द्वारा उपस्थित लोगों को बैलेट बॉक्स को खोलने, बंद करने और सील करने का डेमो भी दिखाया गया।
सहायक निर्वाचन अधिकारी ने सभी को चुनाव के सारणी, मतदान के संदर्भ में चुनाव आयोग के निर्देशों से अवगत कराया और विभिन्न अधिकारियों की चुनाव में भूमिका से भी अवगत कराया।

बैठक में सभी तहसीलों के उपजिलाधिकारी, जोनल/सेक्टर मजिस्ट्रेट, पीठासीन अधिकारी व अन्य मतदान कार्मिक उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: