पेशाब कांड में डीजीसीए ने की बड़ी कार्रवाई, एयर इंडिया पर 30 लाख फाइन

 

पायलट-इन-कमांड का लाइसेंस भी तीन महीने के लिए सस्पेंड

नई दिल्ली : एयर इंडिया पेशाब कांड में डीजीसीए ने बड़ी कार्रवाई की है. एविएशन रेगुलेटर ने एयर इंडिया पर 30 लाख रुपए का फाइन लगाया है. डीजीसीए ने यह कार्रवाई नियमों के उल्लंघन करने के लिए की है. इतना ही नहीं फ्लाइट में पायलट-इन-कमांड का लाइसेंस भी तीन महीने के लिए सस्पेंड कर दिया है. डीजीसीए ने तीन लाख रुपए का फाइन डायरेक्टर-इन-फ्लाइट सर्विस पर भी लगाया है. पिछले साल नवंबर में न्यूयॉर्क-दिल्ली फ्लाइट पर एक यात्री पर पेशाब करने वाले एयर इंडिया के यात्री शंकर मिश्रा को एयरलाइन से चार महीने के लिए प्रतिबंधित कर दिया गया है.

इससे पहले, इस घटना के सामने आने के बाद एयर इंडिया ने तत्काल कार्रवाई करते हुए शंकर मिश्रा पर 30 दिनों के प्रतिबंध का ऐलान किया था. एयरलाइन की तरफ से साथ ही कहा गया था कि मंत्रालय से कंसल्टेशन के बिना एयर इंडिया अपने बलबूते किसी भी यात्री पर नियमों के उल्लंघन के लिए सिर्फ 30 दिनों का प्रतिबंध लगा सकती है. एयरलाइन ने गुरुवार को पेशाब कांड के संबंध में एक आंतरिक रिपोर्ट पेश की है, जिसमें कई चौंका देने वाले खुलासे सामने आए हैं.

इंटरनेशनल फ्लाइट में पेशाब कांड का खुलासा तब हुआ जब पीड़ित यात्री ने एयर इंडिया को लिखित में शिकायत की. घटना के एक महीने बाद एयर इंडिया ने यात्री पर कार्रवाई की. बाद में दिल्ली पुलिस ने एक केस दर्ज कर शंकर मिश्रा को ट्रैक किया, जिनकी इस घटना के बाद नौकरी भी चली गई है.

ये भी पढ़े-  त्रिपुरा-मेघालय चुनाव की तारीख में बदलाव, अब इस दिन होगा मतदान

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: