Chanakya Niti: चाणक्य के अनुसार बहुत भाग्यशाली मानी जाती हैं इन आदतों वाली स्त्रियां

 

 

आचार्य चाणक्य एक महान शिक्षक थे. उन्होंने अपनी नीतियों के बल पर एक साधारण से बालक चंद्रगुप्त मौर्य को सम्राट बनाया था. उनकी नीतियों का पालन लोग आज भी करते हैं. आचार्य चाणक्य ने नीति शास्त्र में शिक्षा, व्यापार, धन, नौकरी और रिश्तों से संबंधित कई बातों के बारे में बताया है. ये नीतियां आज भी उतनी ही प्रासंगिक हैं जितनी की पहले हुआ करती थीं. इन नीतियों का पालन लोग आज भी करते हैं. आचार्य चाणक्य ने नीति शास्त्र में महिलाओं की कुछ आदतों के बारे में भी जिक्र किया है. आचार्य के अनुसार इन आदतों वाली महिलाएं व्यक्ति लिए बहुत ही भाग्यशाली मानी जाती हैं.

  1. क्रोध न करने वाली महिला – क्रोध व्यक्ति का सबसे बड़ा दुश्मन है. आचार्य के अनुसार जो स्त्री क्रोध नहीं करती है वो बहुत ही भाग्यशाली मानी जाती है. इससे घर में शांति बनी रहती है. ऐसे घरों में भगवान का वास होता है.
  2. मधुर वाणी – मीठा बोलकर आप किसी का भी दिल जीत सकते हैं. मधुर वाणी बोलने वाले लोग काफी पसंद किए जाते हैं. जिस घर में स्त्री मधुर बोलती है वहां माहौल बहुत ही अच्छा रहता है. ऐसी जगहों पर वाद-विवाद कम होता है.
  3. धैर्य – धैर्य व्यक्ति की सबसे बड़ी ताकत माना जाता है. जिस स्त्री में धैर्य होता है वो किसी भी समस्या का आसानी से हल निकाल सकती है. ऐसी स्त्री बहुत ही समझदारी के साथ हर कठिन स्थिति को संभाल लेती हैं.
  4. धार्मिक स्त्री – आचार्य चाणक्य के अनुसार धार्मिक विचार वाली स्त्री बहुत ही भाग्यशाली मानी जाती हैं. इससे घर में सकारात्मकता बनी रहती है. घर में शांति का माहौल रहता है.
  5. संतोष रखने वाली स्त्री – बहुत सी महिलाएं संतोष रखने वाली होती हैं. ऐसी महिलाएं उतने में ही खुश रहती हैं जितना उन्होंने मिलता है. अधिक की चाह रखने वाले व्यक्ति हमेशा परेशान ही रहते हैं.
ये भी पढ़े-  गुजरात के इन भूतिया स्‍थानों पर दिन में भी जाने से डरते हैं लोग

 

 

 

Source link

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: